Thursday, 12 March 2015

Health Benifit of Apple Tea (सेब की चाय पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ )


    Health Benifit of Apple Tea     

    सेब की चाय पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ      


दिन में एक सेब जरुर खाना चाहिये क्‍योंकि इससे आपका स्‍वास्‍थ्‍य हमेशा अच्‍छा बना रहेगा। पर क्‍या आपने कभी सोंचा है कि सेब की चाय भी पी कर आप अपनी सारी बीमारियों से निजात पा सकते हैं? जी हां, सेब की एक कप चाय पीने से आपको 73 यूनिट की विटामिन ए और 159 एमजी की मात्रा का पोटैशियम मिलेगा। सेब की चाय न केवल स्‍वास्‍थ्‍य के लिये बल्‍कि अपने टेस्‍ट के लिये भी जानी जाती है। एप्‍पल टी काली चाय के मिश्रण से मिल कर बनाई जाती है जो कि टर्की देश में काफी पी जाती है। एप्‍पल टी में आपको मैगनीशियम, सोडियम और पोटैशियम, अमीनो एसिड और विटामिन बी, सी और ई मिलेगा। आइये जानते हैं ये कैसे बनाई जाती है और इसके और क्‍या स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं।
सामग्री- 


  • 1/3 कप चाय की पत्‍तियां 
  • 2 लीटर पानी चीनी स्‍वादअनुसार 
  • 1 मध्‍यम कटा सेब लौंग 
  •  दालचीनी- जरुरत के अनुसार
  • चीनी स्‍वादअनुसार
  सेब की चाय पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ
सेब की चाय बनाने की विधि- 
  • एक सॉस पैन में 2 लीटर पानी उबालें। 
  • सेब को धोएं और उसे 1 इंच के टुकडे़ में काटें। 
  • सेब का छिलका न उतारें। 
  • अब सेब को खौलते हुए पानी में डालें और 5-7 मिनट तक पकाएं। 
  • फिर इसमें चाय, लौंग और दालचीनी डाल कर 10 मिनट तक पकाएं। 
  • अब आपकी चाय तैयार हो गई है, इसे कप में छान कर ऊपर से चीनी या शहद मिक्‍स करें। 
  • आप इस चाय को फ्रिज में 3 दिनों तक रख कर पी सकते हैं।
  सेब की चाय पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ
सेब की चाय पीने के लाभ- 
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाए। 
  • गठिया और कई अन्य रोगों से निजात दिलाए। 
  • फेफड़ों, कोलोन और प्रोस्टेट कैंसर से बचाए। 
  • उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करे। 
  • शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा को बढ़ाने में मदद करे 
  • शरीर को स्‍वस्‍थ और एक्‍टिव बनाए।
  सेब की चाय पीने के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ
सेब की चाय के कुछ नुकसान-
  • प्रेगनेंट महिलाएं या जो स्‍तनपान करवा रही हों, वह ना पियें।
  •  अगर सेब से एलर्जी है तो चाय का सेवन न करें। 
  • अगर आप किसी प्रकार की दवाइयां ले रहे हों, तो भी यह चाय ना पियें।

















Show Comments: OR
Comments
0 Comments
Facebook Comments by

0 comments:

Post a Comment