Friday, 17 April 2015

Natural Ayurvedic Home Remedies for Removing Sun Tan(सूरज का हमला हुआ तेज, जानें सन टेन /सन बर्न /त्वचा के कालेपन से बचने के असरदार प्राकृतिक घरेलु उपाय)

  

   Natural Ayurvedic Home Remedies for Removing Sun Tan   
             
            त्वचा के कालेपन से बचने के असरदार प्राकृतिक घरेलु उपाय  


धुप से बचने हेतु आप अपना चेहरा, हाथ और पैर ढँक सकते हैं | आप छाते का इस्तेमाल भी कर सकते हैं | पूरे शरीर को धुप से बचाने वाली पोशाक का भी उपयोग कर सकते हैं | यह सब करने के बावजूद आपकी त्वचा एक घंटे में ही काली दिखने लगेगी । धूप में मौजूद अल्ट्रावायलेट किरणें आपकी त्वचा की ऊपरी परत को झुलसा देती है। जिसके कारण आपको सन टेंन या सन बर्न हो जाता है | अगर आप धूप में ज्यादा देर तक रहती है, सनस्क्रीन का प्रयोग नहीं करतीं तो त्वचा के खुले हिस्सों पर सनबर्न या सन टेंन होना लाजमी है। तेज धूप के प्रकोप से त्वचा की ऊपरी परत जल जाती है और डेड हो जाती है, जिसे आम बोलचाल की भाषा में झुलसना कहते हैं। वह हिस्सा गहरा भूरा और काला पड जाता है। सनबर्न को दूर करने और त्वचा का कालापन हटाने के लिए यहां दिए गए उपायों को अपनाएं।
त्वचा 

    धूप से होने वाला त्वचा का कालापन कम करने के प्राकृतिक घरेलु उपाय         पायनेवाले
  v               सन बर्न से बचने के लिए लगायें फिजिकल सनस्क्रीन                                   
           मार्केट में दो तरह के सनस्क्रीन उपलब्ध हैं, फिजिकल सनस्क्रीन और केमिकल सनस्क्रीन।

फिजिकल सनस्क्रीन का अधिकतम एसपीएफ 20 होता है, जिसमें केमिकल बेहद कम होता है, जबकि केमिकल सनस्क्रीन में 20 से ज्यादा एसपीएफ होता है और इसमें काफी ज्यादा मात्रा में केमिकल होता है।
ऐसे में यह ध्यान रखें कि जितना ज्यादा एसपीएफ , उतना ही ज्यादा केमिकल।
चूंकि भारत में अल्ट्रावायलेट किरणें ज्यादा खतरनाक स्तर की नहीं हैं इसलिए यहां फिजिकल सनस्क्रीन का इस्तेमाल काफी है।

  v              त्वचा को मॉइश्चराइज करना भी है जरूरी                                                    
              
          त्वचा  की प्राकृतिक नमी बरकरार रखने के लिए उसे मॉइश्चराइज करने की जरूरत होती है। आजकल ऐसे बहुत सारे मॉइश्चराइजर मार्केट में हैं जिनमें एसपीएफ भी होता है। ऐसे में आप अपने लिए मॉइश्चराइजर वाला सनस्क्रीन चुन सकते हैं। - ऐसा भी कर सकते हैं कि पहले त्वचा पर मॉइश्चराइजर लगाएं, फिर सनस्क्रीन लगाएं या सनस्क्रीन में थोड़ा मॉइश्चराइजर मिलाकर लगाएं। इससे सनस्क्रीन का असर कम नहीं होता। - अगर आपकी त्वचा तैलीय है या बहुत ज्यादा पसीना आता है तो चिपचिपेपन से बचने के लिए सनस्क्रीन में थोड़ा लैक्टोकैलामाइन लोशन मिलाकर लगाएं।
    उबटन का प्रयोग कर पायें सन बर्न/सन टेन से छुटकारा                                      
उबटन का प्रयोग करना सन बर्न के लिए सबसे पुराना और असरदार उपचार है | यह घर पर आसानी से उपलब्ध सामग्री का एक संयोजन है। इस मिश्रण में हल्दी, बेसन, गुलाब जल  और दही शामिल हैं। इसे बनाने की विधि निम्न है-
एक कटोरी में दो बड़े चम्मच बेसन लें और एक या दो बड़े चम्मच दही लें तथा एक चुटकी हल्दी पाउडर मिलाएं । इसमें आप थोडा सा गुलाब जल डालें और  उन सभी को अच्छी तरह मिलाकर आपकी त्वचा पर सन बर्न की जगह पर लगायें और हलके हाथों से एक मिनट तक त्वचा पर रगड़ें। यह केवल चेहरे और हाथों पर ही नहीं बल्कि पूरे शरीर पर उपयोग में आ सकता है।
यह उपाय हर प्रकार की त्वचा के लिए काम करता है | सन बर्न दूर करने के लिए यह उपाय हर दिन किया जा सकता है। कालेपन की तीव्रता के अनुसार एक दिन, दो दिन या एक सप्ताह में वह दूर हो जायेगा | और आपको त्वचा की बनावट में तत्काल परिवर्तन मिलेगा।
  v        
                             कोकोनट ऑयल का कमाल                                                                       


आप इसे सनब्लॉक के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकती हैं। त्वचा की झुलसन व कालापन दूर करने के लिए इसका इस्तेमाल प्रभावकारी होता है। इसमें थोडा सा कपूर मिलाकर त्वचा पर लगाने से जलन कम होती है। इसका प्रयोग करने के  बाद त्वचा को ठंडे पानी से धो लें।

       सन बर्न/सन टेन में आलू है लाभदायक                                                     
Potato For Normal Skin
जिन पदार्थो में ब्लीचिंग का गुण होता है वह त्वचा का कालापन निकालने में बहुत गुणकारी होता है। आलू इसी वर्ग का होने के कारण त्वचा का कालापन कम करता है | इसके अलावा यह काले घेरे, काले धब्बे, मुहांसों के निशान सहित अन्य त्वचा रोगों को कम करने के लिए एक सरल और तेज उपाय माना जाता है। सन बर्न के लिए आलू का प्रयोग निम्न प्रकार से कर सकते हैं|
 सर्वप्रथम आलू के स्लाइस बनायें । और झुलसी हुई त्वचा के क्षेत्र पर यह टुकड़ा हल्के-हल्के घिसें | आप चाहें तो आलू का रस निकालकर प्रभावित जगह पर लगा सकतीं हैं| इसे लगभग १० से १५ मिनट के लिए छोड़ दें और बाद में धो डालें | त्वचा की समस्याओं को दूर करने के लिए आलू का उपयोग करना अत्यधिक सरल और फायदेमंद होता है |
  v              बेजोड है एवोकैडो                                                                                    


इसमें कुदरती एंटी इन्फ्लैमटरी तत्व होते हैं, जो जलन कम करते हैं। इसमें विटमिंस और पोषक तत्व भी होते हैं। 1-2 एवोकैडो को काटकर बीच वाला हिस्सा (गूदा) मसल लें। इसमें थोडा ऑलिव ऑयल और ऐलोवेरा जेल मिलाकर लगाएं। तब तक लगा रहने दें जब तक कि इसका रंग बदल न जाए। फिर त्वचा को गीला करके गीली रुई से हलके से साफ करें। अब ठंडे पानी से धो लें।

      डेयरी उत्पाद का प्रयोग करके पायें सन बर्न से राहत                                       
डेयरी उत्पाद जैसे दूध, दही, मक्खन और छाछ यह त्वचा के कालेपन की समस्या को दूर करने  के लिए एक सरल और सुविधाजनक उपाय है।
आप रात को सोने से पहले अपनी त्वचा पर मालिश करने के लिए इनका उपयोग कर सकते हैं । यह ड्राई स्किन वाले लोगों के लिए बेहद फायदेमंद होता है।
ऑयली त्वचा की महिलाएं इसका प्रयोग न करें क्योंकि ऑयली स्किन वाले लोगों में इससे  मुँहासे होने की संभावना बढ जाती है | ऑयली स्किन वाले यदि चाहें तो इनका  प्रयोग करके देख सकते हैं  और यदि यह नकारात्मक तरीके से काम कर रहा है तो इससे दूरी बनाये रखें ।

     ऑयली स्किन वालों के लिए एलोवेरा                                                          
ऑइली त्वचा की महिलाएं ऊपर दिए गए सुझाव को नहीं कर सकती हैं , अतः उन महिलाओं के लिए एलोवेरा एक अच्छा विकल्प है।
 एलोवेरा का एक पत्ता काटकर उसमे से जेल इकट्ठा करें । इसे काली पड़ी त्वचा पर लगाकर दो से तीन मिनट के लिए हल्के हाथों से मालिश करें । यह आपकी त्वचा को ठंडक देगा और सन बर्न से भी आराम देगा ।

     सन बर्न या सन टेन के लिए खीर है एक अच्छा विकल्प                                     
गर्मी में त्‍वचा के लिये खीरा बहुत ही अच्‍छा माना जाता है। आप इसको अपनी आंखों, चेहरे और पांव पर लगा सकती हैं जिससे सन बर्न का असर कम हो सके। अगर त्‍वचा धूप की वजह से टैन हो कर काली पड़ चुकी है, तो आप ठंडे खीरे का पेस्‍ट बना कर लगा सकती हैं, यह एक प्राकृतिक ब्‍लीच की तरह काम करेगा और आपकी स्‍किन कुछ ही दिनों में सफेद हो जाएगी।
  v         
                             सन बर्न या सन टेन होने पर लें शॉवर                                                           


ठंडे पानी में थोडा बेकिंग सोडा डालकर शॉवर लेने से त्वचा की जलन कम होती है। सोडा मिले पानी में लगभग 10-15 मिनट तक त्वचा को डुबोएं।
इसके अलावा पानी में ओटमील मिलाकर त्वचा साफ करने से जलन और कालापन हट जाता है। बाथ सॉल्ट, ऑयल या बबल बाथ का इस्तेमाल न करें। बजाय इसके एक कप ओटमील को घोल कर कुछ देर त्वचा पर लगाएं। यह स्किन सूथनिंग का काम करता है।



  v              नमी प्रदान करें                                                                                        


यूवी किरणें त्वचा की बाहरी सतह को रुखा कर देती हैं। इस कारण कोश और रक्त कणिकाएं लीक करने लगती हैं और त्वचा की बाह्य सतह पर पहुंचने वाली नमी सूखने लगती है। ऐसे में ठंडी सिंकाई से राहत मिलती है। इसके बाद मॉयस्चराइजर लगाएं ताकि रूखापन न आए। बेहतर होगा कि इस्तेमाल से पहले मॉयस्चराइजर को फ्रिज में रखकर ठंडा कर लें। यह नमी के साथ ठंडक व ताजगी का एहसास देगा।

  v      
                             सन बर्न/सन टेन से प्रभावित त्वचा को ठंडक दें                                              


गर्म तौलिये को ठंडे पानी में भिगोकर झुलसी हुई त्वचा पर कुछ देर रखें। ऐसा दिन में कई बार करें। चाहें तो पानी में थोडा सा बेकिंग सोडा और फिटकरी पाउडर मिलाएं। यह त्वचा की जलन को शांत करेगा।

  v          
                             विटमिन ई के कमाल                                                                              


विटमिन ई के कैप्सूल को तोडकर प्रभावित स्थान पर लगाएं। विटमिन ई, संवेदनशील त्वचा के लिए भी लाभकारी होता है। अगर इसे धूप के संपर्क में आने के तुरंत बाद लगाया जाए तो काफी राहत मिलेगी।

  v       
                                  सन बर्न/सन टेन में उपयोगी है ठंडा दूध                                                     


ठंडा दूध बहुत उपयोगी होता है। दूध में लैक्टो-पैलियो होता है, जो त्वचा की धूप से रक्षा भी करता है और मृत त्वचा को हटाकर नई त्वचा को पोषण देने का काम भी करता है।
एक कटोरी में ठंडा दूध डालकर रुई की सहायता से त्वचा पर लगाएं। सूखने पर ठंडे पानी से धो लें। झुलसी हुई त्वचा पर भूल कर भी पेट्रोलियम जेली न लगाएं। यह त्वचा के छिद्र बंद कर देगी।



  v               ग्रीन टी का उपयोग है लाभकारी                                                             



इसमें टैनिन एसिड होता है, जो त्वचा को ठंडक पहुंचाता है। 2 कप गर्म पानी में 2-3 टी बैग डालें। फिर ठंडा होने दें। इस पानी में कॉटन बॉल डुबोएं और लगाएं। आप चाहें तो नहाने के पानी में भी 4-5 टी बैग्स डाल सकती हैं। ठंडा टी बैग भी उन स्थानों पर रख सकती हैं, जहां तुरंत आराम की जरूरत हों, मसलन आंखों, गाल और नाक पर।

Show Comments: OR
Comments
0 Comments
Facebook Comments by

0 comments:

Post a Comment